Satellite Graveyard In Hindi – दोस्तों क्या आपको हमारी पृथ्वी की सबसे दूर की और सबसे अकेली जगह कौनसी है ये पता है क्या? नहीं. अंटार्टिका नहीं है. पॉइन्ट नेमो (Point Nemo) के बारे में आपको पता ही होगा.

ये जगह प्रशांत महासागर यानि Pacific Ocean में है जो 13,000 फीट से अधिक गहरी जगह है और पृथ्वी पर किसी भी नजदीकी जमीन से सबसे ज्यादा दूर है. लेकिन प्वाइंट निमो केवल इस आश्चर्यजनक (Surprising) बात के लिए प्रसिद्ध नहीं है.

तो आइये देखते है की पॉइंट निमो में ऐसा क्या ख़ास है जो हमे इस विषय पर लेख लिखना पड़ रहा है.

ये भी पढ़ लो : Sentinel Island In Hindi रहस्यमय आदिम जनजाति का बसेरा

एक बार, किसी ने फैसला किया कि ख़राब हुए Satellite को क्रैश करने के लिए Point Nemo एक सही जगह है, और इस तरह प्वाइंट निमो दुनिया का एकमात्र अंतरिक्ष यान कब्रिस्तान Satellite Graveyard बन गया.

Satellite Graveyard In Hindi

Point Nemo पृथ्वी पर जमीन से सबसे दूर का स्थान है. ये इतना अलग थलग है, कि किसी भी समय, इस जगह के सबसे करीबी लोग शायद Space Station के अंतरिक्ष यात्री हैं.

Point Nemo से किसी भी दिशा में अगर जाना है तो 2200 किलोमीटर तक जमीं या कोई इंसान नहीं है. इस जगह का अंतरिक्ष से बहुत गहरा संबंध है जितना आप सोच सकते हैं.

अभी, आपके सिर के ऊपर, हजारों Satellite हमारे ग्रह की परिक्रमा कर रहे हैं. किसी भी बाकी मशीन की तरह, हमारे Satellite हमेशा के लिए काम नहीं कर सकते कभी न कभी उनको Retire होना पड़ता है.

आमतौर पर, लगभग 15 वर्षों के बाद किसी भी Satellite की लाइफ ख़त्म हो जाती है, लेकिन कल्पना करके देखो की सैकड़ों Satellites की लाइफ ख़त्म हुयी है और अब सवाल ये है की इनका करना क्या है?

ये भी पढ़ लो : Saber Tooth Tiger In Hindi 10 हजार साल पुराना खतरनाक शेर

Credit : Reddit/Satellite Graveyard in Hindi
Credit : Reddit/Satellite Graveyard in Hindi

World’s Only Satellite & Spacecraft Graveyard

क्या ये ख़राब हुए Satellites हमेशा हमारे ग्रह का चक्कर लगाते rahe? लेकिन फिर, कुछ दशकों में हम शायद ही अंतरिक्ष के इन Dead Satellites के पर्दे के पीछे के सितारों को देख सकेंगे.

इन Dead Satellites से छुटकारा पाने के दो तरीके हैं, और चॉइस इस बात पर निर्भर करती है कि वो कितना बड़ा है और कितना ऊंचा है?

अगर किसी भी Dead Satellites की कक्षा हमारे ग्रह से बहुत ज्यादा ऊपर है, तो उसका वही पे विस्फोट करके नष्ट करना सही होता है. जिसके बाद इसके Metal के टुकड़े पृथ्वी पर कभी भी लौट नहीं सकते. आज पृथ्वी से सबसे दूर वाला Active Satellite 35,000 किलोमीटर ऊपर है.

अगर कोई छोटा Satellites कम गति से चल रहा है, तो इंजीनियर उसे और धीमा करने के लिए इसके Fuel का उपयोग करते हैं.

वो कैसे?

Slow Speed Satellite यानि वो अपनी घूमनेवाली कक्षा से बाहर हो जाता है और 30,000 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड से पृथ्वी के वातावरण यानी Atmosphere में आता है. इतनी स्पीड से वातावरण में प्रवेश करने पे, हवा के साथ Satellite का घर्षण होक आग लग जाती है और Satellite को जला देती है.

ये भी पढ़ लो : Mysterious Trees in Hindi दुनिया के 5 सबसे विचित्र पेड़

Credit : AstroScale/Satellite Cemetery
Credit : AstroScale/Satellite Cemetery

सॅटॅलाइट को कैसे गिराया जाता है?

Satellite Graveyard In Hindi – Aerospace Engineers ने चुनौती ली की किसी भी चीज़ को बिना टकराये Dead Satellites यानी ख़राब हुए Satellites को पॉइंट निमो में गिरा सकेंगे. इस तरह से ये जगह Satellite Graveyard में बदल गयी.

2011 में, चीन ने अपना स्पेस स्टेशन, तियांगोंग -1 (Tiangong) लॉन्च किया और 2016 में उन्होंने इस स्पेस स्टेशन का नियंत्रण खो दिया। इसके बाद ये ख़राब हुआ स्पेस स्टेशन 2018 में पृथ्वी के वायुमंडल में प्रवेश करके प्रशांत महासागर में गिर गया. लेकिन ये Point Nemo से हजारों किलोमीटर दूर जेक गिरा.

Chinese Space Station वायुमंडल में प्रवेश करते समय जल गया और इसके हजारों छोटे टुकड़ों की बौछार के रूप में समुद्र से गिर पड़ा.

दोस्तों, जैसा कि आपको याद है, क्रैश-लैंडिंग इसलिए हुई क्योंकि स्टेशन का कोई नियंत्रण नहीं था. 1971 से प्वाइंट निमो को एक Satellite Graveyard के लिए चुना गया, तब से अंतरिक्ष एजेंसियों ने इसमें 270 से अधिक Dead Satellites को समुद्र में दफना दिया है.

ये भी पढ़ लो : Dinosaurs Of Antarctica कभी अंटार्टिका में घुमते थे डायनासोर

Credit : Google Earth/Point Nemo Location
Credit : Google Earth/Point Nemo Location

Point Nemo: Satellite Graveyard In Hindi

इस Satellite Graveyard में सबसे बड़ा अंतरिक्ष यान है रूस की MIR Space Lab. जो पानी के नीचे लगभग ३ किलोमीटर अंदर दबी हुई है जिसे 2001 में गिराया गया था.

प्वाइंट निमो के अंदर कई सारे Sattellites और Spacecraft समाये हुए है जिसमे 6 रूसी स्पेस स्टेशन, 7 जापानी कार्गो SpaceCraft, 5 यूरोपीय एजेंसी के मालवाहक जहाज और 1 SpaceX का रॉकेट भी है.

कहीं न कहीं 2025 के आसपास, International Space Station भी इस कब्रिस्तान में शामिल होने की संभावना है. आज 4,000 से अधिक अंतरिक्ष यान और Satellite पृथ्वी की परिक्रमा कर रहे हैं.

भविष्य में इंसानों को इस Space Junk की गंभीर समस्या का सामना करना पड़ेगा.

दोस्तों आपको Satellite Graveyard In Hindi के बारे में रोचक जानकारी कैसी लगी, हमे कमेंट करके जरूर बताएं और इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें..

उम्मीद है आपको यह Satellite Graveyard In Hindi पसंद आई हो. ऐसेही Interesting Facts in Hindi में पढ़ने के लिए हमारी साईट को भेंट दे.

धन्यवाद 🙏