Curiosity Rover: 24 जनवरी, 2004 मंगल पर Opportunity रोवर लैंड हो गया, ये उन दो रोवरों में से एक है जो इस बात का सबूत तलाशने गए हैं कि मंगल पे पानी मौजूद है या नहीं.

मंगल की बीहड़ सतह पर 45 किलोमीटर की यात्रा करने के बाद, इसने पानी की मौजूदगी के निशान ढूंढ लिए,हालांकि इस Rover की लाइफ केवल 90 दिनों की थी, लेकिन यह मंगल पर 14 साल से काम कर रहा है!

2018 में एक भारी सैंड Storm के बाद इससे संपर्क खो गया, और शोधकर्ताओंने इसे मरा हुआ घोषित किया था.

Nasa के Curiosity Rover पर वैज्ञानिक खोजे जारी है, छह महीने की अंतरिक्ष उड़ान के बाद Curiosity Rover आखिरकार 6 अगस्त, 2012 को मंगल पर लैंड हो गया.

इसपे बहुत सारे Advanced उपकरण हैं , मंगल की जलवायु परिवर्तन और भूवैज्ञानिक प्रक्रिया के बारे में नई खोजों को खोजने के लिए, मंगल पर पहुंचने के बाद गेल क्रेटर पर पहला निशाना था, जिसके बारे में वैज्ञानिक लंबे समय से उत्सुक हैं।

Curiosity Rover के कितने दिन बचे है मंगल पर

जल्द ही क्यूरियोसिटी ने मजबूत सबूतों की खोज की, कई सालों पहले मंगल के गद्दों में पानी मौजूद था, नदियाँ, जिनमें कभी तरल पानी होता था, जो बहते हुए पास के क्रेटरों में मिटटी और रेत ले जाती थी.

Mars पे समय के साथ, मिटटी और रेत धीरे-धीरे जमा हो गयी और Compress होके उसके पथरबन गए – इस बेहतरीन रचना को Curiosity Rover ने ढूंढ लिया.

आगे का अध्ययन करने के लिए Curiosity Rover ने झील के अंदर Drill करके कई प्रकार के कार्बनिक यौगिक पाए इन यौगिकों में कार्बन होता है और कार्बन पृथ्वी पर जीवन का सबसे आम तत्व है.

How Long Does Curiosity Rover Have Left

हालांकि हमारे Solar सिस्टम में कई कार्बन तत्व हैं जो जीवन से नहीं आते, लेकिन ये अच्छी खबर है जो हमे बताती है कि मंगल पर अरबों साल पहले सूक्ष्मजीव थे. Curiosity गेल क्रेटर के आस पास के पत्थरों पे काम कर रहा है, Curiosity Rover ने मंगल पर 22 किलोमीटर की यात्रा की है, लेकिन यह सब इतना आसान नहीं है, पिछले 8 वर्षों में मंगल की ऊबड़-खाबड़ सतह ने Curiosity के Tyres को गंभीर रूप से Damage किया है, और यह मंगल पर आने वाली कई परेशानियों में से एक है.

इन Tyres के नुकसान को धीमा करने के लिए – रोवर को नियंत्रित करने वाली इंजीनियर Team ने – इसे उबड़-खाबड़ रास्तों से बचने के लिए साफ़ सतह ढूंढ ली है.

Curiosity Rover आज भी Deep Space Network के जरिये पृथ्वी के संपर्क में है, इसे संपर्क में रखने के लिए पृथ्वी पे 3 जगहों पे बड़े बड़े Antenas लगाए गए है.

Curiosity Rover के कितने दिन बचे है

Curiosity का ऐन्टेना पृथ्वी की ओर झुका हुआ है। Curiosity Rover आमतौर पर पहले मंगल पर घूमने वाले ऑर्बिटर को डेटा भेजता है; ये मंगल ऑर्बिटर को हर दिन 8 मिनट के लिए मंगल के सिर पर रखता है, इतने कम समय में ऑर्बिटर 30 मेगाबाइट तक का डेटा पास कर सकता है, फिर ऑर्बिटर उसे पृथ्वी पर भेजता है।

RELATED | Astronaut Falling on Moon – Apollo 16 | चाँद पर गिरनेवाले अंतरिक्षयात्री

Curiosity Direct द्वारा पृथ्वी पर भेजे जाने पर 20 घंटे लगेंगे। कारण यह है कि पृथ्वी से संपर्क करने के लिए बहुत अधिक बैटरी की आवश्यकता होती है, इसलिए डेटा संचार केवल कुछ घंटों के लिए संभव है। यह तापीय ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में बदलकर क्यूरियोसिटी बिजली (RT Generator) से प्राप्त किया जाता है।

RT Generator Curiosity Rover को 2026 तक पूरी तरह से काम करने की उम्मीद है। तब क्रोध की बैटरी कमजोर होगी और वैज्ञानिक उपयोग कम होंगे।

कब रिटायर होगा Curiosity Rover

लेकिन इंजीनियरिंग और वैज्ञानिक टीम ने कहा कि Curiosity Rover उसकी बैटरी खत्म करने के बजाय किसी शक्तिशाली DustStorm से उसे मार सकता है, जिस तरह Opportunity को खत्म कर दिया गया था।

बादल और रेत के तूफान मंगल ग्रह पर होते हैं क्योंकि वे 100 किलोमीटर ऊंचे बादल बना सकते हैं. सैंडस्टॉर्म में धूल के कण छोटे होते हैं और थोड़े स्थिर होते हैं, इसलिए वे रोवर की सतह से चिपके रहते हैं और विद्युत उपकरणों को नुकसान पहुंचाते हैं।

Nasa ka 2020 ROVER banke udan तैयार है, जो 2020 के अंत में रवाना हो जाएगा और 2021 के मध्य में Mangal grah पर पहुँच जाएगा।

RELATED | 5 Rocket Blasts In Space History | 5 भयानक राकेट हादसे

Curiosity Rover को मंगल पर रहने योग्य परिस्थितियों की खोज करने के लिए भेजा गया था, लेकिन Mars 2020 Rover का लक्ष्य कुछ अलग होगा। Mangal grah पर jivanu की वास्तविक पुष्टि की जा रही है।

मार्स रोवर अधिक जटिल, अधिक बुद्धिमान और अधिक उपयोगी होगा। हालाँकि क्यूरियोसिटी में अभी भी बहुत सारे वर्ष बाकी हैं, इसकी शक्ति कम हुई है और सैंडस्टॉर्म इसे किसी भी समय बंद कर सकते हैं।

इंजीनियर हर बार बिजली बचाने के लिए सरे उपकरणों को एक-एक करके बंद कर देंगे. जब तक क्यूरियोसिटी अपना अंतिम डेटा नहीं भेजेगा, तो वह मंगल पर पूरी तरह से गायब हो जाएगा।

लेकिन कोई बात नहीं, हम मंगल ग्रह पर क्यूरियोसिटी द्वारा एकत्र किए गए बहुत सारे डेटा को कभी भूल नहीं सकते। Hum kabhi याद नहीं कर सकते कि Curiosity Rover ने Mangal Grah पर क्या किया।

निष्कर्ष 👇

दोस्तों आपको Curiosity Rover के कितने दिन बचे है मंगल पर | How Long Does Curiosity Rover Have Left के बारे में रोचक जानकारी कैसी लगी, हमे कमेंट करके जरूर बताएं और इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें.

उम्मीद है आपको यह पसंद आई हो. ऐसेही Amazing Space Facts in Hindi में पढ़ने के लिए हमारी साईट को भेंट दे.

धन्यवाद 🙏😊