Cassini Burns into Saturn | Cassini Hindi | कैसिनी अंतरिक्ष यान

Cassini Hindi: – 15 सितंबर, 2017 को, कैसिनी अंतरिक्ष यान Saturn yani शनि grah में samake apna 13 salon ke mission को समाप्त करता है. कैसिनी सात साल की यात्रा के बाद, 2004 में शनि पर पहुंचा tha। Iska pehla laksh tha टाइटन, शनि का सबसे बड़ा Upgrah jo नाइट्रोजन ke dhunve se और हाइड्रोकार्बन ki झीलों ki ek daravani duniya hai।

कैसिनी ने टाइटन पर उतरने के लिए ह्यूजेंस Probe ko iske धुंधले वातावरण me पैराशूटिंग करते हुए chhod diya, ह्यूजेंस ने मीथेन और पानी की बर्फ से खुदी हुई Nadiyon की photos को वापस भेजा।

Ye hamara kisi anjaan chand पर हमारा पहला टचडाउन tha। कैसिनी Titan upgrah ki गुरुत्वाकर्षण को गुलेल के रूप में use karke 100 से अधिक बार टाइटन pe लौट आया.

Cassini Burns into Saturn

चंद्रमा की सैकड़ों फ्लाईबिस पर, कैसिनी के कैमरों ने शनि के राजसी छल्ले को खांचे और अंतराल, बैंड और ब्रैड में भंग कर दिया। 13 साल तक कैसिनी शनि के 62 moons के dance में शामिल हुई।

Titan ke gehre पानी के महासागर shayad Jivan को chhupate hai. Iske दक्षिणी ध्रुव के पास खारे पानी के fouvare vayumandal me shoot hote hai..कैसिनी ने कई बार इन fouvaron से उड़ान भरी। इसके sensors ने Molecules का पता लगाया, लेकिन वे जीवन की तलाश के लिए डिज़ाइन नहीं किए गए थे।

Cassini Hindi

इससे पहले कोई भी यान शनि ग्रह के इतना करीब नहीं गया। कैसिनी के साथ भेजे गए 12 सूक्ष्म उपकरणों ने शनि aur उसके सबसे बड़े उपग्रह टाइटन पर बहुमूल्य जानकारी समेटी और पृथ्वी पर भेजी।

इनकी मदद से वैज्ञानिक यह पता लगाने में कामयाब हो सके कि शनि ग्रह पर मौसम कैसे बदलता है aur ग्रह पर भयंकर तूफान कैसे आते हैं।

हमारे सौरमंडल में सूरज से छठे स्थान पर मौजूद Shani ग्रह का निर्माण 4.5 अरब साल पहले हुआ था jab uski Rings nahi thi. वैज्ञानिकों का मानना है कि शनि के moons के बीच टकराव या koi धूमकेतु in moons ko takrake in Rings ka निर्माण हुआ होगा – जो ग्रह के नजदीक ही बिखरे हुए हैं.

कैसिनी अंतरिक्ष यान (Cassini Hindi)

Cassini Hindi: कैसिनी Shani ke उत्तरी ध्रुव pe pahuncha aur जैसे-जैसे ग्रह नीचे की ओर बढ़ा, शनि का मौसम धीरे-धीरे बदलता गया। कैसिनी ne ek bahut adbhut nazara dekha – Iske north pole pe jo तूफान chal raha tha use capture kiya ye itna bada hai जो चार पृथ्वी को निगल सकता है।

कैसिनी ne shani ke rings se अंधेरे से पहले सूर्यास्त bhi dekha uske sath कैसिनी ने pichhe mudke पृथ्वी को भी देखा, जो कि नीली रोशनी ka एक point dikha। कैसिनी अंतरिक्ष यान aakhiri बार Gulel ki gati lene टाइटन के पास आ गया, jo use iske गुरुत्वाकर्षण se mili – jiske baad ye shani ke rings ke andar jake study karnewala tha aur apna safar Shani me samake khatm karnewala tha.

लेकिन कैसिनी का ईंधन लगभग khatm ho गया tha। jise ye अंतरिक्ष में 20 साल salon se chala raha tha.

Cassini Hindi: शनि के वायुमंडल में प्रवेश करते ही कैसिनी गैस की पतली परत के बीच अपने एंटीना को धरती की ओर बनाए रखने के लिए छोटे-छोटे विस्फोट करना शुरू करेगा। लेकिन जैसे ही गैस की परत मोटी होगी, यह अपनी puri क्षमता के साथ विस्फोट करेगा और एक मिनट के अंतराल में ही पृथ्वी से यान का संपर्क टूट जाएगा।

15 सितंबर को, कैसिनी ने 1 lakh प्रति घंटे से jada speed se शनि के बादलों को भेदते हुए अपना अंतिम गोता लगाया। Apne antim samay me bhi woh Pruthvi par data bhejta raha. शनि के बटरस्कॉच बादलों me sirf एक प्रकाश की लकीर जिसे dekhane ke wahan koi आंखें moujood nahi thi.

Ye bas ek Meterior shower jaisa dikha hoga jo puri tarah se Baaf banke Shani ke vatavaran ka ek hissa bana aur शनि के आकाश में Cassini ki यात्रा समाप्त होती है.

निष्कर्ष 👇

दोस्तों आपको Cassini Burns into Saturn | Cassini Hindi | कैसिनी अंतरिक्ष यान के बारे में रोचक जानकारी कैसी लगी, हमे कमेंट करके जरूर बताएं और इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें.

उम्मीद है आपको यह Cassini Hindi पसंद आई हो. ऐसेही Amazing Facts in Hindi में पढ़ने के लिए हमारी साईट को भेंट दे.

धन्यवाद 🙏😊

Leave a Comment

Pin It on Pinterest